सटका मटका जियो चार्ट

महिलाओं का सेक्सी

महिलाओं का सेक्सी, ab ye samar ke liye mushkil sawal tha. Magar uske dimaag aur lund me jo hawas jhum rai thi usne samar ko apne kabu me kr rha tha. Wo toh apni didi ki gand dkhne chahta tha. Uske liye wo kch b kr skta tha. बोलते रहिए मालिक बिंदिया ने कहा. जब ठाकुर उसको इस तरह बिस्तर पर गालियाँ देते तो उसे बहुत मज़ा आता था.

राज: मे कोई ज़ोर ज़बरदस्ती नही करूँगा.....बस एक इज़ाज़त माँगी है.....मे तैयार हू...तुम्हारी रज़ामंदी चाहिए.... 5. उसके बाद तकरीबन 9.30 बजे तेज अपने बाप के कमरे में उनसे बात करने पहुँचा था. क्या बात करनी थी ये उसने नही बताया. सिर्फ़ कुच्छ बात करनी थी.

ठाकुर थोड़ी देर तक अपनी जीभ को लंड पर उपेर नीचे फिरती रही. लंड अब तन कर पूरी तरह खड़ा हो चुका था और मुश्किल से ठकुराइन के हाथ में समा रहा था. ठकुराइन ने अपना मुँह जितना हो सका खोला और लंड को महिलाओं का सेक्सी वो जो ठकुराइन के पिछे उनकी व्हील चेर पकड़े खड़ी थी वो थी बिंदिया. गाओं की ही एक औरत है. उसका पति ठाकुर साहब के खेतों में काम करता था. जब वो मरा तो ठाकुर साहब ने उसको हवेली में ही रख लिया ताकि ठकुराइन की देख-भाल कर सके.

புண்டை எப்படி இருக்கும்

  1. ' chl bhai, lga le hath apni behen ki nangi gand par. Isse pehle mera irada badal jaye. Chule, dba le, rgd le apne hatho se meri gand' neha apni gand aur zyada smr k lund pe ghusate huye boli.
  2. राजेश: क्या कहेगा….मे अपनी बीबी से बात कर रहा हू…किसी और से थोड़े ही ना………..थोड़ी देर खामोश रहने के बाद………………हिम्मत करके राजेश ने कहा….तो मे सोचु कि तुमने मुझे माफ़ कर दिया है आज का मौसम संबंधी जानकारी
  3. अरुण: क्या हुआ रांड निकल नहीं रहा तुझसे तो अपनी बेटी को बुला ला नहीं तो अपनी ननद को बुला ले जिसने इसे खड़ा किया है वो ही इसे ठण्डा कर देगी। अंधेरे में रूपाली ने देखा के उन्होने हाथ में एक डंडे जैसी चीज़ पकड़ रखी थी जो रूपाली अच्छी तरह जानती थी के क्या है. मम्मी उसको हाथ में पकड़ कर उपेर नीचे कर रही थी.
  4. महिलाओं का सेक्सी...मैंने इशारे से कहा कि फुलवा को एक बार और चोदना चाहता हूँ तो फुलवा जो धोती पहन चुकी थी, धोती को उतारने लगी.मैंने इशारे से कहा- रहने दो, धोती ऊपर उठा कर ही चोद दूंगा. गाड़ी में से ये मिला है सर कहते हुए शर्मा ने अपने हाथ में पकड़े प्लास्टिक बॅग से एक काले रंग का ब्रा निकाला.
  5. नीतु को देख कर रमेश मन ही मन बहुत खुश हुआ की चलो अब नीतू के होते हुए अरुन प्रीति और परी को कुछ नहीं कर पायेगा। कमला: मेरे तो नही है पर मेरी सहेली कांता का है……..उसका ताला नही खुल रहा है…चाभी कही खो गयी है और ताला काफ़ी कीमती है…..इस द्वी-अर्थ भरे डाइलॉग सुन सुन के राज को चक्कर आ रहा था….वो बोला अब बस करो यार खाना खाओ….मे जा रहा हू………….और वो उठ कर बास बेसिन के पास चला गया हाथ धोने के लिए

भारत का दिल किसे कहा जाता है

सरला: जान पहले आप अपनी बीवी की सर्विसेज ले लो और अरुन के कपडे उतारने लगती है और दोनों शावर के निचे आ जाते है।

उसका ब्लाउस एक तो स्लीव्ले और उपेर से बिल्कुल ट्रॅन्स्परेंट था. ब्लाउस के नीचे उसने कोई ब्रा नही पहेन रखी थी. ट्रॅन्स्परेंट ब्लाउस के नीचे उसकी बड़ी बड़ी चूचियाँ सीधे ख़ान की नज़रों के सामने थी. नेहा धीरे-धीरे आगे-पीछे होने लगी। उसकी कोमल गाण्ड समर के लण्ड को बीच में लिए आगे-पीछे होने लगी। समर आँखें बंद करे जन्नत की सैर करने लगा। नेहा नीचे झुकी और उसको चूमने लगी। इसके साथ ही उनकी छातियां मिल गई और समर का लण्ड और बेकाबू हो गया।

महिलाओं का सेक्सी,राजेश: ओह............और दुबारा शिप लेने लगा....तभी उसे एक शरारत सूझी...उसने दुबारा स्मृति को शिप लेने को दबाब डाला......डार्लिंग एक शिप प्लीज़....

Neha ki aankho me chamak agyi. Aur uski choot me b. Usne apni choot se apna hath htaya aur dhire dhire apne dono hath samar k lund ki aur bdaye. Dono bhai behen iss pal k liye betaab the. Jb un dono ki skin pehli baar ek dusre ko chuyegi.

तब मैंने उस का डर दूर करने की खातिर बात शुरू कर दी.उसने बताया कि वो बगल के एक गाँव में रहती है और 5 जमात तक स्कूल में पढ़ी है और अब अपनी माँ का हाथ घर के काम में बटाती है. उसकी एक छोटी बहिन भी है और एक छोटा भाई भी है, दोनों स्कूल जाते हैं.हॉट माँ हद

अगले दिन बिन्दू काम पर आ गई और नई लड़की को देख कर भड़क गई.मैंने उसको शांत किया और कहा- आज रात में तुमको एक तमाशा देखने को मिलेगा. शीला: दी जब तक हो सके रमेश जीजू से दुर रहना और कभी ज़बर्दस्त करे तो बोल देना पीरियड्स है या तबीयत ख़राब है और जब आप को लगे की वक़्त आ गया है बताने का तो बता देना।

मनोज ने भी वैसा ही किया जैसे राज और रश्मि ने किया था.....मनोज और ज्योति ने जम कर पेशाब वाले एपिसोड का लुफ्त उठाया.....जब दोनो फ्री हो गये तो राज ने कहा....

समर ने अब उसका निचला होंठ अपने होंठों में लिया और उसको एक प्यासे बेबी की तरह चूसने लगा। भाई बहन प्यार में पड़े एक कपल की तरह स्लो रोमांटिक किस कर रहे थे। वो कम से कम 5 मिनट तक ऐसे ही एक दूसरे के होंठों चूसते रहे। समर तो इस पल में खो ही गया था। ‘,महिलाओं का सेक्सी अरे राज….कैसे हो….बहुत दिन के बाद मिले हो….. अरे हां….तुम दीपक….कहाँ हो भाई………..तुम तो काफ़ी मोटे हो गये…..कॉलेज टाइम मे तो काफ़ी पतले दिखते थे……

News