xxx हिंदी विडिओ

செக்ஸ் படம் போடுங்க

செக்ஸ் படம் போடுங்க, रीत-कोई बात नही कूटी की बच्ची तेरे अभी दिन अच्छे है जिस दिन मुझे मौका मिल गया ना तेरा मज़ाक उड़ाने का उस दिन देखना तू. पंडित : माधवी ..मैं सुन्दरता की प्रशंसा करने वाला व्यक्ति हु ..और मैं तुमसे बस यही कहना चाहता हु की मैंने अपने जीवन में ऐसे सुन्दर स्तन आज तक नहीं देखे ..

उसने आजतक सिर्फ 3 - 4 बार ही लंड लिया था अपनी चूत में ..पर कोई भी इतना लम्बा और मोटा नहीं था ..इतना शानदार लंड देखकर उसके मुंह से पानी निकल कर प्रियंका के मुंह पर जा गिरा ..और अगले ही पल उत्तेजना के चरम शिखर पर पहुंचकर उसकी चूत का पानी भी उसके मुंह के अन्दर जा गिरा .. पंडित : ''अरे शीला रानी ..अब तो ऐसे हमलों की आदत डाल लो ..मुझे हमला करके शिकार करने की ही आदत है ..ऐसे में शिकार को खाने का मजा दुगना हो जाता है ..जैसे अब हो गया है ..देखा तुम्हारी चूत में से कैसे रसीली चाशनी निकल कर मुझे तृप्त कर रही है ..''

उनका बाथरूम उनके कमरों के पीछे की तरफ था ..वहीँ पर जहाँ उस दिन पंडित खड़ा होकर सारा नजारा देख रहा था ..गिरधर ने बाथरूम का दरवाजा बंद नहीं किया था , जैसे उन्हें किसी बात का डर ही नहीं था .. செக்ஸ் படம் போடுங்க यहाँ पंडित जी अपने मजे लेने में लगे थे और वहां कोमल दुसरे जोड़े की अटेंशन ना मिलने से परेशान सी थी ..

सेक्सी मराठी साडीवाली

  1. पंडित जी ने बड़ी चतुराई से उसके उरोजों की नरमाहट अपनी उँगलियों से महसूस कर ली थी ..जिसे छुकर उन्हें लगा की उनकी उँगलियाँ ही झुलस जायेंगी ..इतनी गर्माहट थी उन तोप के गोलों में ..
  2. मैंने लेफ्ट वाली औरत दे लेफ्ट मम्मे ते मारा......................उस ते ही लगा......हम फिर छुप गये...........बीजी शरारती பிஎஃப் பிக்சர் வீடியோ
  3. पंडित : ये क्या कर रही हो ..तुम ऐसे शरमाओगी तो कुछ भी नहीं सीख पाओगी ..मेरी तरफ मुंह करो और ऊपर से निर्वस्त्र हो जाओ .. उसके बाद का नजारा देखकर तो सुलेमान की कुत्ते जैसी जीभ ऐसे बाहर आ गयी जैसे उसने गोश्त का भण्डार देख लिया हो ..और था भी वो नजारा ऐसा ही ..ब्लेक ब्रा के अन्दर उसके मोटे मुम्मे किसी लबाबदार डिश जैसे लग रहे थे ..जिन्हें वो अपनी जीभ और दांतों से चबा जाना चाहता था ..
  4. செக்ஸ் படம் போடுங்க...नूरी ने भी सोचा की मौका अच्छा है ..उसके अब्बा भी घर पर नहीं है ..और सुलेमान उसे अच्छा भी लगता है ..और उसपर लाइन भी मारता है .तो क्यों ना आज इसके साथ ही मजा लिया जाए .. अब उस पगली को ये बात कौन समझाए की ये बात तो पंडित जी को बोलनी चाहिए थी की अपनी शीला दीदी से इस बारे में कोई बात ना करे .
  5. जैसे -२ उसका बुरका ऊपर जा रहा था उसकी गोरी पिंडलियाँ नंगी होती जा रही थी ..जिन्हें देखकर इरफ़ान का बुरा हाल हो रहा था ..पंडित जी के कहे अनुसार उसने बुर्के के अन्दर सिर्फ ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी ..ब्लेक कलर की , जो उसके गोर रंग से कंट्रास करके काफी जच रही थी . रितु को भी एहसास हो चूका था का पंडित बाथरूम के अन्दर आ चूका है ..उसकी दिल की धड़कने तेजी से चलने लगी ...उसके हाथों की फिसलन अपनी चिकनी टांगो पर कम होने लगी ..उसका चेहरा शर्म से अपने आप आगे की तरफ झुक गया ..और उसके हाथों से फ्रोक का कपडा भी निकल कर नीचे लहरा गया ..

देहाती सेक्सी बीएफ

और फिर उन्होंने उसकी जींस के बटन खोल दिए ..और पीछे से हाथ अन्दर डाल कर उसकी गरमा गरम गांड को अपने नंगे हाथों में समेट लिया ..और अपनी उँगलियों को अन्दर धंसा कर उसके गुदाजपन का जाएजा लेने लगे ..

वो बोली : जी ..जी ... माँ ...वो ...अब ठीक है ...इसलिए आई .....वो कोमल किचन के काम नहीं करती ...आपको तो पता ही है ..'' पंडित ने अपनी लम्बी ऊँगली रितु की छाती की तरफ करके पूछा ..और ऐसा करते-2 वो ऊँगली एक बार तो उसकी छाती से छुआ भी दी ..

செக்ஸ் படம் போடுங்க,आज उसके पापा का कोई अंग पहली बार उसकी चूत में गया था ..वो सोचने लगी की अगर ऊँगली के जाने से इतना मजा आ रहा है तो इनका लंड लेने में कितना मजा आएगा ..

रीत-कोई बात नही कूटी की बच्ची तेरे अभी दिन अच्छे है जिस दिन मुझे मौका मिल गया ना तेरा मज़ाक उड़ाने का उस दिन देखना तू.

शायद..नही..कुच्छ..धुँधला सा....है..!,उसके माथे पे शिकन गहरी हो रही थी.रंभा ने उसके सीने पे हाथ रख उसे पीछे रेलिंग पे बिठा दिया & उसके कंधो पे बाहे जमा उसके चेहरे को हाथो मे भर लिया & चूम कर उसके माथे की सलवटो को दूर करने लगी.बिलू फिल्म विडियो

वो खड़ा हुआ कभी उसका दांया मुम्मा चूसता और कभी बांया ...और उसके हाथ की उँगलियाँ धीरे -2 उसकी गांड की सरहदों में दाखिल होकर वहां बनी हुई दोनों चोंकियों को कुरेदने में लगी थी ..एक हाथ की उँगलियाँ उसकी गांड के छेद को कुरेद रही थी और दुसरे हाथ की उँगलियाँ उसकी रसीली चूत को .. ये.,रंभा ने चौखट पे बैठे शख्स के चेहरे पे टॉर्च की रोशनी मारी.उस शख्स ने बहुत धीरे से हाथ उठाके रोशनी को रोका & फिर आँखे मीचे हाथ नीचे कर रोशनी मारने वाले को देखने लगा लेकिन वो कुच्छ बोला नही.देवेन आगे बढ़ा & उस शख्स के चेहरे को गौर से देखा & उसके मुँह से हैरत भरी चीख निकल गयी.

पंडित जी को ऐसा लगा कि उनकी ऊँगली मोम से बनी हुई है जिसे उन्होंने किसी आग कि भट्टी के अंदर डाल दिया है .

अगली सुबह रंभा ने नाश्ते की मेज़ पे पड़ा अख़बार देखा तो उसे पिच्छले दिन की देवेन की कही बात याद आ गयी.उसने जल्दी से अख़बार उठाया & उसके पन्ने पलटने लगी.आख़िरी पन्ने पे 1 इशतहार पे उसकी नज़र पड़ी & उसके होंठो पे मुस्कान फैल गयी.,செக்ஸ் படம் போடுங்க दूसरी तरफ नूरी ने गिरधर के लंड के साथ -२ उसके टट्टे भी अपने मुंह में भर लिए और उन्हें चूसकर बाहर निकालने लगी ..उसने गिरधर के लंड वाले हिस्से को पूरी तरह से मालिश करके चमका दिया था .

News