हिंदी बीपी बीपी बीपी बीपी

বেঙ্গলি বিএফ বৌদি

বেঙ্গলি বিএফ বৌদি, हम दोनों ऐसे ही बातें करने लगे कि अचानक जस्सी बोली- कल मेरा जन्मदिन है.. तो मुझे क्या दे रहे हो.. गिफ्ट में? जय - साले मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा है अब तुम मेरी बहन के साथ घूम रहे हो और मैं अपने लौड़े को हाथ से हिला रहा हूँ।

उसकी सिसकारी सारे कमरे में सुनाई दे रही थी आआआह ह्ह्हह। पुन्नन्नीईत बस करो आआअह्हह मैं मर जाऊंगी आआ आआअह्हह! कुछ देर बाद हमने फिर से एक बार किया। उस रात हम ने सिर्फ़ दो बार ही सेक्स किया और अपने-अपने कपड़े पहन कर सो गए।

हम दोनों बिस्तर पर एक दूसरे से कस के चिपके हुए थे। भैया ने फ़िर मुझे किस किया और मेरी जांघों के बीच में आ गए। मैंने अपनी टांगें उनके पैरों पर रख ली थी। उन्होंने अपने एक हाथ को मेरे सर के नीचे रख कर किस किया और दूसरे से मेरी अनचुदी कुँवारी चूत में उँगली की तो मेरे मुंह से सिसकारी सी निकली-आऽऽऽऽऽऽह ! বেঙ্গলি বিএফ বৌদি आ्आ्आ्आ्आह्ह्ह्ह ओ्ओ्ओ्ओह्ह्ह, हर्र्र्र्र्रा्आ्आ्आम्म्म्मीई्ई्ई्ई कुत्ते कमीने सूअर के बच्चे, छोड़ मुझे, ऐस्स्सा्आ्आ्आ्आ अनर्थ न कर। हिलने डुलने में असमर्थ सिर्फ मौखिक विरोध कर रही थी, जिसके लिए मैं स्वतंत्र थी और यह विरोध भी वहां की हवा में विलीन होता जा रहा था।

हिंदी सेक्सी बीएफ बिहार का

  1. फिर आया दिसंबर … उस साल सर्दियां थोड़ी कम पड़ रही थीं। एक रात को मैंने उसे उसकी छत पर टहलते- टहलते हमारे चाचा की लड़की के साथ अंताक्षरी खेलते हुए पाया।
  2. मैंने हाथ ऊपर नीचे करना शुरू किया। उसका लन्ड खम्भे की तरह खड़ा था और गर्म भी था। भाई को भी मस्ती छाने लगी जो उसके चेहरे पर साफ दिख सकती थी। उसका मस्त लौड़ा देख मेरे मुंह में पानी आ रहा था। मैंने न चाहते हुए भी उसके टोपे पर जीभ से फेर दिया। हल्का नमकीन स्वाद था उसके लंड का. एस एस एस विडियो डाउनलोड
  3. अन्दर जाकर हम दोनों डान्स करने लगे.. मैं उसके साथ डान्स करते-करते उसके बदन के किसी ना किसी अंग को छू देता था.. लेकिन शायद उसको बुरा नहीं लग रहा था। पब में मस्ती करने के बाद जब हम बाहर निकले तो। रिया चाट चाट कर पूरा लंड साफ कर गयी. फिर रमेश के लंड अंदर से रिस रहा बचा खुचा मुठ भी चूस गयी. रमेश ने रिया को कटोरी वापस दे दी. रिया हगने की पोज में बैठ गयी. उसने कटोरी को ठीक अपनी गांड के नीचे लगा लिया.
  4. বেঙ্গলি বিএফ বৌদি...ये जो तथाकथित नाते रिश्ते की मर्यादा मर्दों नें बनाई है हम औरतों को बंधन में रखने के लिए। खुद तो इधर उधर मुंह मारते रहते हैं, बाहर कोई न मिले तो, घर में ही रिश्ते नातों की मर्यादा को ताक पर रख कर अपनी मनमानी करते हैं, और उन्हें रोकने टोकने वाला कोई नहीं। उदाहरण दूं? जैसे ही मैंने अपना एड्मिट कार्ड देखा.. तो मैंने सबसे पहले मोनिका को कॉल किया और उसे बताया कि मैं एग्जाम के लिए राउरकेला आ रहा हूँ।
  5. उस दिन मेरे ज़हन में एक बात आयी। ये जानते हुए भी कि मैं कितनी बड़ी रण्डी हूं उसने मेरा फायदा नहीं उठाया। मेरी हेल्प की और मुझे इस समस्या से निकाला। बहुत कोशिश करने के बाद भी ब्रा का हुक नहीं खुल पा रहा था, मैंने पीछे हाथ ले जाकर ज़ोर से खींचा तो हुक टूट गए और चूचियाँ आज़ाद हो गईं।

বেঙ্গলি থ্রি এক্স ব্লু ফিল্ম

रमेश के लण्ड को रिया ने अपने मुंह में भर लिया। रमेश को लण्ड चुसवाने का बहुत अनुभव था। रिया ने बिल्कुल वैसे ही चूसना शुरू किया जैसे ब्लू फिल्मों में करते हैं।

मेरे पिता जी नहीं हैं, जब मैं छोटा था तभी उनकी मृत्यु हो गई थी। मेरी माँ का नाम रजनी है और वो 47 साल की हैं। हम भी साथ ही चलेंगे, फिर रांची में दो दिन रुक कर अपने घर हजारीबाग चले जाएंगे। दादाजी तुरंत बोल उठे, वे भी कहां पीछे रहने वाले थे।

বেঙ্গলি বিএফ বৌদি,जब मैंने अपने एक हाथ को उसके स्तन से हटा कर उसकी जाँघों के बीच में डाल कर उसके भगांकुर को सहलाने लगा तब वह उचक पड़ी. उसने तुरंत पलटी होकर मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया और अपनी चुत को मेरे मुंह के आगे कर दिया.

अरे दीदि, आप इतना तो समझिये, वो बच्चा कितना अच्छा हे, जैसे ही आप को देखा की आप उसके सामने चेंज करने में अनकंफर्टबल हे तो वो खुद ब खुद ही बाहर चला गया ना.. तो प्लीज चिंता मत करिये, वो अब म्याचूर हो चुक्का हे, उसे पता हे क्या करना चाहिये और क्या नहीं..

कर के आहें भर रही थी. मैंने फिर चाची को तक़रीबन ऐसे १५ मिनट तक चोदने के बाद मैंने लंड को बाहर निकला और चाची को लगा की में अब थक गया हूँ तो वो उठने जा रही थी पर मैंने चाची को पकड़ के रक्खा और अपने लंड को चाची की गांड के छेद पे रखा. पता था की चाची ना कहेगी पर मैंने चाची को कहा..ऑडियो और वीडियो डाउनलोड यूट्यूब

सच में कुछ नही.. और कहते कहते में चाची के पीछे स्टूल पे बैठ गया, थोड़ा सा कंजस्टेड था पर हम दोनों आराम से बैठे थे, दूसरे दिन योजना के हिसाब से हम घर से निकले और उसके ब्वॉयफ्रेंड को मिलने चले गए. दीदी मेरी साथ गई थीं, इसलिए कोई संदेह भी नहीं कर सकता था. वो एक गार्डन में मिले, मैंने कुछ देर उन दोनों को अकेला छोड़ दिया.

मैने दोनों हांथों से उसके चुत के लिप्स को खोला और उसके चुत के बीच में जो दाना था उसको सेहलाया,उस्के चुत के छेद को देखा जो की एकदम बंद था हल्का सा छेद दिख रहा था उसपे मैंने अपनी उंगली फिराई तो वो कांप गई मैंने कहा

इस बात पर रिया हँस दी और रति ने शरमा कर अपना सिर रमेश के सीने में छुपा लिया. रमेश रति को लेकर रूम में चला गया और रिया मन ही मन में सोचने लगी- सचमुच, आज भी मॉम और डैड में कितना प्यार है!,বেঙ্গলি বিএফ বৌদি ‘सच है दीदी… वो एक बार सेक्स करने के बाद मैं अपने आप को रोक ही नहीं पाई, अब तो डेली सेक्स करने का मन करता है… क्या आप का नहीं करता?’

News