पंजाबी सेक्सी वीडियो फुल एचडी

महाराष्ट्रातील संतश्रेष्ठ

महाराष्ट्रातील संतश्रेष्ठ, दीदी आप मेरी फ्रेंड हैं तो में आप से झूट नही बोलूं गा जी मैने आप को देखा है कुछ दफ़ा और यक़ीन करें दीदी आप इतनी प्यारी हैं आप का जिस्म इतना क्यूट है कि मेरा बहुत दिल करता है लेकिन मुझ में हिम्मत नही होती में डर डर के कभी देख लेता हूँ सॉरी दीदी. रेणु ने गुस्से से अपने बदन पर लिपटे टवल को बेड पर फेंक दिया और अलमारी से अपनी पैंटी और ब्रा निकाल कर पहने लगी…बबलू ने डोर लॉक किया और रेणु को पीछे से बाहों में भर लिया

मैं बेड साइड टेबल पर से देखा की 7:20 बजे थे, फिर मोम को बताया पर मोम को फर्क नहीं पड़ा- ओके आप कुछ देर सो लो जब तक मैं डिनर करके आती हूँ, ओके? मोम भी जोश के साथ बोलती जा रही थी- आह्ह… यस्स जस्ट लाइक दैट फकिंग होर यू आर डूयिंग राइट बेबी… फक योर मदर, आह्ह… इस्स्स… योर होर मोम लाइक्स इट इस्स्स… एयेए फक आह्ह… फक माई पुस्सी… डू यू लाइक मामा चूत? यू लोव इट डोन्ट यू?

मैं मोम की तरफ देखती हूँ और उन्हें देखकर नहीं लगता की उन्हें कोई प्रोब्लम है, तो मैं हाँ बोल देती हूँ। महाराष्ट्रातील संतश्रेष्ठ काजल: कसमसाते हुए) नही ये बात नही है भगवान के लिए में तुम्हारे सामने हाथ जोड़ कर कहती हूँ मुझे छोड़ दो मुझे सब अच्छा नही लगता प्लीज़ छोड़ दो ये ठीक नही है में ऐसा नही कर सकती बाहर जाओ(अमन अब तक समझ चुका था कि घी सीधी उंगली से निकलने वाला नही है)

सेक्सी वीडियो फिल्म गांव की

  1. अब मैं मा की ओर अपना चेहरा किए उसकी गोद पर आ गया .मेरी टाँगें उसकी कमर को लपेटे खाट पर थी ..अपने लौडे को उसके पेट पर दबाता हुआ उस से लिपट गया ...और उसकी कान में कहा ....
  2. बबलू:तुम तो जानती हो हमारे घर के आस पास दूर-2 तक कोई 2 मंज़िला घर नही है और छत पर कैसे दिखेगा वैसे 5 फुट के बाउंड्री वाल भी हैं जल्दी कर ऊपर आ जा देसी किन्नर सेक्स वीडियो
  3. मैंने अपनी जांघों के बीच मोम की आँखें देखते हुए कहा- तू चल मैं आई… तभी कुछ आखिरी बूंदें मोम के मुँह में जा गिरी, भाई के जाने के बाद मैं मोम के ऊपर से हट गई। तभी अयाज मुझे झुका कर रेलिंग पकड़ने को बोलता है, और मैं वैसा ही करती हूँ। वो पीछे से मेरी चूचियां कसकर पकड़ता है और अपना लण्ड मेरी चूत पर रखता है। फिर एक जोरदार धक्का देता है तो मेरे मुँह से चीख निकल जाती है- ‘आह्ह्ह…’
  4. महाराष्ट्रातील संतश्रेष्ठ...वैसे तो मैने उनकी बाते कई बार सुनी लेकिन कोई खास बात सुनने को नही मिली, फिर भी उनकी बातो को सुनने के लिए मैं उत्सुक रहता था, और फिर आज जो बाते उन दोनो ने की उससे यह लगा कि कुच्छ भी हो यह दोनो छीनाल तो नही है पर रंडीपने की बातो मे उन्हे भी खूब मज़ा आता है, मा ने मेरी तरफ देखा ..मेरी आँखों में उसे वो सब कुछ दिखा .... उसने सर झुका लिया ...मानो उसने अपनी मंज़ूरी दे दी .....
  5. थोड़ी देर बाद ही दरवाज़े पर खत खत हुई , मैं समझ गया दोनो आ गयी तीन ..मैने बिंदु की तरफ देखा ..वो भी कपड़े पहेन चूकी थी ..मैं दरवाज़े की तरफ गया और दरवाज़ा खोला .. शमॉ जी बड़े रंगीन मिजाज के थे पचास के करीब होने को आ गए हैं लेकीन औरतो को देखकर लार टपकाना आज तक नही छोड़े। जब से ऑफीस मे राहुल की मां आई है उस दीन से शमॉ जी उसके लार टपकाए पीछे पडे़ है। लेकीन आज तक यहां ईनकी दाल नही गली।

एक्स वीडियो खेसारी लाल यादव

उस रोज दिन भर तो माँ चुप थी....मानो कुछ हुआ नहीं ...अपने मरद की मौत पे सारी औरतें कितना रोती हैं ..तडपति हैं ..पर मेरी माँ बिल्कुल शांत थी...

कामया बोली- हाहाहा… वेरी फन्नी, तू तो एक पड़ोसी की होर है, तू तो 100 लोगों के सामने भी चुदाने में शरम नहीं करेगी… क्लब में अकरम हमें अपने रूम ले गया, वहां जाते टाइम मेरी चूत को पहले से ही फीलिंग आ गई। रूम में पहुँचने पर अकरम ने कहा- अच्छा अब सुनो, आज तुम दोनों माँ बेटी को मेरे कुछ खास कस्टमर्स को खुश करना है…

महाराष्ट्रातील संतश्रेष्ठ,ट्रिशा खड़ी होकर बोली- कब से मेरी चूत मरी जा रही है, और इंतजार नहीं कर सकती… और वो भाई के दोनों तरफ पैर करके लण्ड पे झुकने लगी। तब मैंने भाई के फड़कते लण्ड को पकड़ा और ट्रिशा- आह्हह… फक… फीलिंग लेते हुए लण्ड पे बैठ गई।

वहां सामने मोम अपनी चूत मसलते हुए हमें देख रही होती हैं। फिर मोम के पास इरफान उठकर जाता है और उनकी चूचियों को चूमने और दबाने लग जाता है, और मोम उसका लण्ड मसलती हैं। मेरे नीचे अब अशरफ का लण्ड खड़ा होकर मेरी चूत में चुभने लगता है।

बिंदु ने झट मेरा हाथ हटा दिया..भाई तुम हाथ मत लगाओ..मा ने क्या कहा.? जो भी करना है हम करेंगे .. और ये बोलते हुए उस ने अपनी चुचियाँ अपने हाथों से दबाते हुए एक चूची मेरे मुँह में डाल दी..और कहा लो चूसो ...जितना चाहे चूसो भाई ..इंग्लिश सेक्सी हिंदी वीडियो

शोभा:अहह बब्लुउउुुुुुुुुुउउ उंह बबलू तुम्हारे लंड का अहसास मुझे बहुत अच्छा लग रहा है जल्दी से घुसा दो अब मुझे रहा नही जा रहा राज जाकर अपनी चेर पर बैठ गया….उसने टिकेट काउंटर खोला और पहली ट्रेन के मुसफ़ीरों को टिकेट देने लगा…..थोड़ी देर बाद रुक्मणी और अनीता भी आ गयी…..राज से हाए हेलो बोल कर वो अपने कामो में लग गयी……

मैं उठा ..मा की तरफ बढ़ा ..उन्हें अपनी गोद में उठाया , मा ने अपनी बाहें फैलाए अपने बेटे के गले को थामते हुए अपना सर मेरे कंधे पर रख दिया

और मैं बीच में उनके भारी और मांसल हथेलियों की गर्मी से कांप उठा था ...उनके पर्फ्यूम से मदहोशी छा रही थी...सीधा असर उसका मेरे पॅंट के अंदर हो रहा था ...,महाराष्ट्रातील संतश्रेष्ठ नीलु की सहेली: कभी कभार हमारी तरफ भी ध्यान दे दीया करो वीनीत। हम लोगो का भी नोट्स बाकी है।(बाकी की सहेलीयो ने भी उसके सुर मे सुर मिलाई।)

News