ब्लू सेक्सी इंग्लिश ब्लू

दाढी हेअर स्टाईल फोटो

दाढी हेअर स्टाईल फोटो, बाबाजी की बात पर अम्मी ने जी अच्छा कहा और वो जाने के लिए पलट गई। मैं भी उठी और बाबाजी को फ्लाइंग किस देती हुई पलट गई। मेरी हरकत पर बाबाजी मुश्कुरा दिए। बाहर आकर अम्मी ने बाबाजी के एक खिदमतगार के हाथ पर 3000 रूपये रखे तो मैं ये सोचकर मुश्कुरा दी की ये पैसे तो मुझे मिलने चाहिए थे। आरती.....जी ये ठीक रहेगा ......आज करण आ रहा है तो कहीं जा तो नही सकते ....ऐसा करते हैं आज रूबी और मिनी को यहीं स्नोर्केलिंग ही करवा दो ...दोपहर तक का टाइम निकल जाएगा ...फिर लंच के बाद तो करण आ ही जाएगा

और बोले- कंवल आज तुझे चोदकर मुझे चुदाई का असल मजा मिल रहा है, आज तक कोई ऐसी लड़की ही नहीं मिली जो इतनी देर तक मेरे लण्ड को बर्दाश्त कर सके, आज तो मैं तुझे चोद-चोदकर तेरी चूत और गाण्ड का कीमा बना दूंगा. बोल तो दिया सोनल ने और बोलने के बाद सोचा कि क्या बोल गयी … शर्मा के सुनील की छाती में खुद को छुपाने की कोशिश करने लगी .

सुमन....ये दर्द तुम नही समझोगे जान ...मुझे सच्चा प्यार मिला ...पर वो भी अपने बेटे से...........अपने बेटे से प्यार करने का गुनाह जो मैने किया है...उसकी सज़ा ...शायद उपर जा के ही मिलेगी..... दाढी हेअर स्टाईल फोटो सोनल....ना बाबा ना ....आप ही सम्भालो इनको ...मैं तो सोने चली ...मेरे बस का नही आज की रात (और सोनल उठ के सीधा बेडरूम की तरफ चली गयी)

मसाले भात रेसिपी मराठी

  1. रूबी सोनल के करीब हुई और उसके होंठों पे अपने होंठ रख दिए.....(आह्ह्ह्ह यही होंठ सुनील रोज चूस्ता होगा..इन होंठों में सुनील के होंठों की मिठास मिल गयी होगी.....)
  2. सुमन ज़ोर से चीखती जब सुनील उसके निपल को काट लेता,,,,,,,पानी की लहरें जब जिस्म से टकराती तो भाप सी उठ जाती क्यूंकी सुमन का बदन तपने लगा था…….उसके दिल की धड़कन तेज हो चुकी थी…..रात को खुल्ले में बीच पर चुदाई करने का अपना ही रोमांच था. बिहारी देहाती सेक्सी बीएफ
  3. सुमन काफ़ी गरम हो चुकी थी ....अभी तक सुनील उसे आनंद दिए जा रहा ...आज की रात की बागडोर वो अपने हाथ में रखना चाहती थी...ताकि हर वक़्त हर लम्हा ये रात सुनील की आँखों के सामने लहराती रही ...इस रात की पुनरावृति की इच्छा उसके अंदर ज़ोर पकड़ती रहे......आज का अहसास उसकी धमनियों में समा जाए. खुले में तारों की छाँव के नीचे चुदाई का अपना ही मज़ा होता है और ये तीनो यही मज़ा चख रहे थे जो वापस देल्ही जा कर इन्हें नही मिलना था....
  4. दाढी हेअर स्टाईल फोटो...रूबी और कविता बहुत खुश थी ...रूबी की नज़रें मिनी पे पड़ी जो सुमन को कुछ ज़यादा ही देख रही थी ...जब सुमन सुनील के कान में कुछ कह रही थी.... सवी की जान ही निकल जाती है इस अहसास से कि उसका प्यार आख़िर उसे मिल जाएगा अपनी बहन के लिए उसके दिल में इज़्ज़त और प्यार की भावना हज़ारों गुना बढ़ जाती है.,
  5. कविता...क्यूँ मैं कहाँ जाउन्गि...अभी तो यहीं रहूंगी ...भाई के और तुम सबके पास....कोर्स पूरा होने से पहले कहीं नही जानेवाली......मैं नही जानेवाली...बोल दूँगी सॉफ सॉफ इसके अलावा कमाल ने कोई ऐसी हरकत नही करी थी जो शक को पुख़्ता करती …इसके बाद किसी ने कमल को कभी जबरदस्त रूबी को रोकते हुए नही देखा और ना ही कभी दोनो को बात करते हुए देखा.

ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो ब्लू

कवि की चूत लगातार रस बहा कर राज के लंड को भिगोने लगी और राज का लंड उसकी सन्करि चूत में आराम से फिसलने लगा

खुले में तारों की छाँव के नीचे चुदाई का अपना ही मज़ा होता है और ये तीनो यही मज़ा चख रहे थे जो वापस देल्ही जा कर इन्हें नही मिलना था.... सुमन ने रूबी के सर पे हाथ फेरा और उसे अपने साथ लिविंग रूम में ले गयी और बेडरूम का दरवाजा बंद कर दिया .......

दाढी हेअर स्टाईल फोटो,सबने थोड़ी वाइन पी....और चलते चलते सुमन बोली....अरे मैं तो बताना ही भूल गयी...कल मेरी सहेली की बेटी का बर्तडे है...बहुत ज़ोर दे रही है ...कि सबको आना पड़ेगा ....तो कल शाम सब फ्री रखना.......

ये पाप ही तो थे जिनकी वजह से सुनील ने ठुकरा दिया .....वरना क्या वो अपना नही सकता था......बिल्कुल अपना सकता था...पर नही....उसके संस्कार...उसकी मर्यादा ....

सुनील भी सुमन के कमरे में चला गया था और वहीं पढ़ रहा था…रूबी और कविता डिस्टर्ब ना हों इस लिए सवी हॉल में बैठी वक़्त काट रही थी टीवी देख कर…अंग्रेजी सेक्सी गर्ल

वक़्त गुज़रता है...सुमन थोड़ा संभालती है ..और उसे संभालने में सोनल दिन रात लगी रहती थी.......सुमन डिसचार्ज हो कर घर आ जाती है..........लेकिन वो जैसे पत्थर की बन चुकी थी ..कोई प्रति क्रिया नही करती थी...बैठे बैठे उसके आँसू टपकने लगते थे...अपने उस बच्चे को याद कर जो जनम नही ले पाया.. रात भर सोनल ...सुनील को अपनी अदाएँ दिखाती रही और दोनो एक दूसरे में खोते रहे....सुबह तक सोनल के जिस्म का पोर पोर दुख रहा था.....पर चेहरे पे सकुन था...एक संतुष्टि बही मुस्कान थी....

'कमजोर नही हूँ - खुद को पहचानने की कोशिश कर रहा हूँ - कभी सोचा है क्या होगा उस लड़के का हाल जब उसे पता चले - ही ईज़ आ बस्टर्ड'

तभी सुनील का मोबाइल बजने लगा…..इस वक़्त कॉल देख उसे गुस्सा चढ़ने लगा…कॉन हो सकता है इस वक़्त……..वो कॉल काटने वाला था कि सुमन ने कॉल लेने का इशारा किया…..सुनील ने कॉल ली तो दूसरी तरफ मिनी थी…….वो रो रही थी…रोते हुए उसने बताया कि रमण का आक्सिडेंट हो गया है……और ****** हॉस्पिटल में आइसीयू में है……,दाढी हेअर स्टाईल फोटो विजय.....सुनील बेटा ....अब जो मैं तुम्हें बताने जा रहा हूँ....वो बात सिर्फ़ तुम तक रहनी चाहिए ....किसी भी कीमत पे ये बात राजेश और कविता को नही पता चलनी चाहिए ....

News